भाजपा महिला मोर्चा के तीन दिवसीय राष्ट्रीय प्रशिक्षण वर्ग का समापन, शिवराज बोले

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा के सीहोर में 13 से 15 मई तक चले तीन दिवसीय राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर का समापन हो गया। इस दौरान अलग-अलग सत्रों में अलग-अलग विषयों पर वक्ताओं ने अपने विचार रखे। समापन सत्र से पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी प्रशिक्षण वर्ग में पहुंची और उन्होंने नए भारत का विचार : केंद्र सरकार की उपलब्धियां विषय पर अपनी बात कही।

भाजपा महिला मोर्चा के तीन दिवसीय राष्ट्रीय प्रशिक्षण वर्ग का समापन, शिवराज बोले

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा के सीहोर में 13 से 15 मई तक चले तीन दिवसीय राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर का समापन हो गया। इस दौरान अलग-अलग सत्रों में अलग-अलग विषयों पर वक्ताओं ने अपने विचार रखे। समापन सत्र से पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी प्रशिक्षण वर्ग में पहुंची और उन्होंने नए भारत का विचार : केंद्र सरकार की उपलब्धियां विषय पर अपनी बात कही। समापन सत्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की धरती अहिल्या देवी की कर्मभूमि, रानी दुर्गावती, वीरांगना अवंति बाई, रानी कमलापति, झांसी की रानी लक्ष्मीबाई, राजमाता विजयाराजे सिंधिया जैसी महान नायिकाओं की धरती रही है। आज भी यहां पर सुमित्रा ताई, फायर ब्रांड नेत्री उमाभारती, धाकड़ नेत्री उषा ठाकुर जैसा नेतृत्व पार्टी के पास है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने हमेशा से महिला नेतृत्व को वरीयता दी है।

महिला सशक्तिकरण की दिशा में कदम उठाए हैं। महिला सशक्तिकरण के बिना भारत शक्तिशाली राष्ट्र भी कभी नहीं बन सकता। 50 प्रतिशत सीटों पर चुनाव लड़ती हैं महिलाए: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अब मध्यप्रदेश में 50 प्रतिशत सीटों पर महिलाएं चुनाव लड़ती हैं। हमने निर्णय लिया कि चुनावों में 50 प्रतिशत टिकट महिलाओं को देंगे। इस पर कई लोगों ने आपत्तियां जताई, लेकिन हमने तय कर लिया था कि महिलाओं को आगे लाना है। उन्होंने कहा कि हम पुलिस भर्ती में भी 30 प्रतिशत भर्ती बेटियों की करते हैं। भाजपा का एजेंडा सिर्फ महिला सशिक्तकरण ही नहीं है, बल्कि महिलाओं का सामाजिक सशक्तिकरण, राजनीतिक सशक्तिकरण, आर्थिक सशक्तिकरण करना भी है और इस दिशा में काम भी कर रहे हैं। हमने नारी सम्मान कोश भी अलग से बनाया है। महिलाओं के नाम पर प्रापर्टी खरीदने पर एक प्रतिशत ही स्टाम्प ड्यूटी ली जाती है। 

उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 घंटे सिर्फ एक ही सपना देखते हैं कि कैसे भारत एक शक्तिशाली, गौरवशाली, वैभवशाली राष्ट्र बने और वे इसके लिए लगातार काम कर रहे हैं। हमें गर्व है कि हम ऐसे नेतृत्व के साथ में काम कर रहे हैं, जिन्होंने भारत को विश्व गुरू बनने की श्रेणी में लाकर खड़ा कर दिया है। प्रधानमंत्री मोदी जी भारत के लिए भगवान का वरदान है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा एजेंडा कभी भी वोट   बैंक का नहीं रहा। हमारा एजेंडा तो समाज के सर्वांगीण विकास का रहा है। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति से लेकर जनसंघ और फिर भारतीय जनता पार्टी तक महिला नेतृत्व हमेशा आगे रहा है। भाजपा की सरकारों ने हमेशा से महिलाओं-बेटियों की चिंता की है। उन्होंने कहा कि जब 2003 में भाजपा की सरकार आई और 2005 में पार्टी नेतृत्व ने मुख्यमंत्री बनाया तो सबसे पहले हमने लाडली लक्ष्मी योजना शुरू की। इस योजना के विचार को लेकर उन्होंने कहा कि जब वे गांवों में जाते थे तो वहां पर देखते थे कि बेटियों के साथ भेदभाव होता है। यदि बेटियां जन्म ले लेती है तो घर-परिवार वालों के मुंह बन जाते हैं। मन में विचार आया कि बेटियों के लिए काम करेंगे। फिर मौका मिल गया, मुख्यमंत्री बन गए तो इस योजना को शुरू किया। आज मध्यप्रदेश में 43   लाख बेटियां लाडली लक्ष्मी बन चुकी हैं। अब बेटियां जन्म लेने के साथ ही लखपति बन जाती हैं। अब बेटियों के जन्म पर खुशियां मनाई जाती हैं, लड्डू बांटे जाते हैं। मध्यप्रदेश में अब एक हजार बेटों पर 956 बेटियां हैं और इसे एक हजार लाने का हमारा लक्ष्य है।

स्मृति ईरानी का हुआ स्वागत
महिला मोर्चा के तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर के समापन दिवस पर केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी भी शामिल हुर्इं। सीहोर आगमन पर महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वानती श्रीनिवासन, मध्यप्रदेश भाजपा की महामंत्री कविता पाटीदार, मप्र महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया ने उनका स्वागत किया। वहीं राजाभोज एयरपोर्ट पर भाजपा नेताओं एवं महिला मोर्चा से जुड़ी महिलाओं ने उनकी अगवानी की। यहां स्मृति ने महिला कार्यकर्ताओं से कहा कि वे पार्टी को मजबूत करें।  एयरपोर्ट पर स्मृति ईरानी भाजपा पदाधिकारियों से मुलाकात करने के बाद सीहोर रवाना हो गईं। 

श्रीमती ईरानी ने की एडॉप्ट एन आँगनवाड़ी और लाड़ली लक्ष्मी योजना की प्रशंसा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी ने आज मुख्यमंत्री निवास में सौजन्य भेंट की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केंद्रीय मंत्री श्रीमती ईरानी का पुष्प-गुच्छ, शॉल एवं स्मृति-चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं केंद्रीय मंत्री श्रीमती ईरानी ने विकास के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

केंद्रीय मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी ने मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के सफल क्रियान्वयन की प्रशंसा करते हुए कहा कि मामा जी, माँ और बेटी दोनों के स्वास्थ्य और कल्याण की चिंता कर रहे हैं। उन्होंने मध्यप्रदेश में चल रहे एडॉप्ट एन आँगनवाड़ी अभियान की भी प्रशंसा की।

केंद्रीय मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी ने मुख्यमंत्री से चर्चा में बताया कि लाड़ली लक्ष्मी योजना का उल्लेख तो मैं हर भाषण में करती हूँ। साथ ही आपके द्वारा मध्यप्रदेश में बेटियों के हित के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं को अन्य राज्यों ने अपनाया है, यह आपके कार्यों की सफलता का परिचायक है। उन्होंने कहा कि एडॉप्ट एन आँगनवाड़ी का प्रतिवेदन केंद्र सरकार को भेजें, इसे व्यापक स्तर पर लागू करने पर विचार किया जाएगा। श्रीमती स्मृति ईरानी ने मध्यप्रदेश में स्व-सहायता समूह के संचालन, स्वच्छता और पर्यावरण के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी को प्रशंसनीय बताया।