सतना का लाल जम्मू में शहीद : आतंकियों के ग्रेनेड हमले में शहीद हुए सीआईएसएफ के एएसआई पटेल

शहीद शंकर प्रसाद पटेल सतना की मैहर तहसील के नौगवां गांव के रहने वाले, Shaheed Shankar Prasad Patel resident of Naugaon village of Maihar tehsil of Satna

सतना का लाल जम्मू में शहीद : आतंकियों के ग्रेनेड हमले में शहीद हुए सीआईएसएफ के एएसआई पटेल

सतना। जिले के मैहर तहलसी अंतर्गत नौगांव के रहने वाले सीआईएसएफ के एएसआई शंकर प्रसाद पटेल सुबह 4.30 बजे जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों से हुई मुठभेड़ में शहीद हो गए। उनके साथ के कुछ जवान घायल हुए हैं। शंकर प्रसाद पटेल और उनकी टीम पर आतंकवादियों ने ग्रेनेड से हमला दिया था। जिससे वह घटनास्थल पर ही शहीद हो गए। सप्ताहभर पहले ही उन्होंने ड्यूटी जॉइन की थी। उनके दो बेटे हैं। बड़ा बेटा राजा एनएचएआई में गार्ड है, जबकि छोटा बेटा सुरेन्द्र नागपुर में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। सुरेन्द्र ने बताया कि सेना के अधिकारियों से बात हुई है। फ्लाइट से पापा का पार्थिव शरीर जम्मू कश्मीर से जबलपुर या प्रयागराज( इलाहाबाद) लाया जा सकता है। एनएचएआई

जम्मू में आतंकी हमले में सतना के शंकर प्रसाद पटेल शहीद हो गए। शुक्रवार सुबह जम्मू के भटिंडी सुंजवां और चड्ढा आर्मी कैंप के पास सुरक्ष बलों पर आतंकियों ने फायरिंग की। इस पर भारतीय जवानों ने जवाबी फायरिंग की। इस दौरान आतंकियों ने ग्रेनेड से हमला कर दिया, जिसमें सीआईएसएफ के एएसआई शंकर प्रयाद पटेल शहीद हो गए। उनकी शहादत की खबर मिलते ही उनके घर-गांव में मातम छा गया है। प्रशासन ने अंतिम संस्कार की तैयारियां शुरू कर दी हैं। 

दो आतंकी ढेर, छह जवान घायल
आतंकियों से हुई मुठभेड़ में भारतीय जवानों ने एनकाउंटर में 2 आतंकियों को ढेर कर दिया। इस मुठभेड़ में भारतीय सेना के 6 और जवान भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। घायलों को जम्मू के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि यह हमला जैश-ए-मोहम्मद ने किया था।

पीएम मोदी के दौरे से पहले आतंकी हमला
अनुच्छेद 370 खत्म किए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार 24 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर के दौरे पर रहेंगे। जिसे लेकर वहां खुफिया एजेंसियां और सेना हाई अलर्ट पर हैं। कार्यक्रम में पीएम के साथ उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, ग्रामीण विकास पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह भी होंगे। पीएम के दौरे के पहले ही यह मुठभेड़ हो गई।

सुबह 4 बजे आतंकियों से हुई मुठभेड़
जम्मू में सुंजवां कैंप के पास शुक्रवार सुबह करीब 4.15 बजे सुरक्षा बल आतंकियों की सूचना मिलने पर पहुंचे थे। यहां आतंकियों ने फायरिंग की। मुठभेड़ शुरू हुई। इसमें 2 आतंकवादी ढेर कर दिए गए और अफसर शहीद हुए हैं। सुंजवां में एनकाउंटर खत्म हो गया है। आतंकवादियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। हमला उस समय हुआ जब जवान बस से ड्यूटी पर जा रहे थे। जवाबी फायरिंग के बाद आतंकी भाग गए। सर्च ऑपरेशन जारी है।