कर्फ्यू: खरगोन में दो घंटे की ढील, दंगे के दिन गुम युवक की मौत

दो दिन भ्रमण पर रहेंगे जिले के प्रभारी मंत्री पटेल, District in-charge minister Patel will be on tour for two days

कर्फ्यू: खरगोन में दो घंटे की ढील, दंगे के दिन गुम युवक की मौत

खरगोन। रामनवमी जुलूस के दौरान हुई हिंसा के बाद से खरगोन में लागू कर्फ्यू में सुबह 8 से 12 तक ढील निरस्त करने के बाद प्रशासन ने अब दोपहर 12 से दोपहर 2 बजे तक की छूट दी है। शांति समिति की बैठक निरस्त कर दी गई है। वहीं हिंसा के बाद से लापता युवक की मौत हो गई है।

जानकारी के मुताबिक यह छूट सिर्फ किराना, मेडिकल और दूध के लिए ही होगी। महिलाएं और पुरुष दोनों खरीदारी कर सकते हैं। हिंसा के दिन से लपता हुए इब्रेश उर्फ सद्दाम खान (28) की मौत हो गई है।

एक और थाने का प्रस्ताव
बताया जा रहा है कि शहर में हुई सांप्रयायिक हिंसा को देखते हुए एक और थाने का प्रस्ताव भेजा जाएगा। इसके साथ ही शहर में तीन पुलिस चौकियां बनाई जाएंगी। जिले के प्रभारी मंत्री कमल पटेल सोमवार और मंगलवार को खरगोन शहर के भ्रमण पर रहेंगे। मंत्री शाम 5 बजे खरगोन पहुंचकर कानून व्यवस्था के संबंध में अधिकारियों के साथ सर्किट हाउस में चर्चा करेंगे।

खरगोन शहर में 10 अप्रैल को कर्फ्यू लगाया गया था। 14 अप्रैल को पहली बार सिर्फ महिलाओं को सुबह 10 से दोपहर 12 और दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक बिना वाहन के छूट दी गई थी। इसके अगले दिन 15 अप्रैल को सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक महिला और पुरुष दोनों को बिना वाहन के घरों से निकलने की छूट मिली थी। शनिवार को तीसरे दिन 2-2 घंटे की फिर छूट रही। रविवार को 4 और 2 घंटे की छूट रही।