दतिया और सीहोर में बारिश के साथ गिरे ओले, खुले में रखा गेहूं भींगा

पश्चिमी विक्षोभ के कारण मई महीने के पहले दिन मौसम ने करवट ली। रविवार को दिन में तेज गर्मी पड़ी, वहीं दोपहर में कुछ जिलों में थोड़ी राहत मिली। इस दौरान नर्मदापुरम में तेज बारिश हुई, वहीं सीधी में 6 मिलीमीटर तो राजगढ़ में हल्की बारिश हुई। सीहोर के शाहगंज क्षेत्र और दतिया में बारिश के साथ ओले गिरे।

दतिया और सीहोर में बारिश के साथ गिरे ओले, खुले में रखा गेहूं भींगा

TIO भोपाल

पश्चिमी विक्षोभ के कारण मई महीने के पहले दिन मौसम ने करवट ली। अलग–अलग स्थानों पर सक्रिय मौसम प्रणालियों के कारण हवाओं के साथ नमी आने का सिलसिला शुरू हो गया है। इसके चलते भोपाल सहित ग्वालियर, चंबल, सागर, रीवा संभाग के जिलों में मौसम का मिजाज बदल गया है। कुछ स्थानों पर गरज–चमक के साथ बौछारें भी पड़ रही हैं। रविवार को दिन में तेज गर्मी पड़ी, वहीं दोपहर में कुछ जिलों में थोड़ी राहत मिली। इस दौरान नर्मदापुरम में तेज बारिश हुई, वहीं सीधी में 6 मिलीमीटर तो राजगढ़ में हल्की बारिश हुई। सीहोर के शाहगंज क्षेत्र और दतिया में बारिश के साथ ओले गिरे। भिंड में तेज आंधी चली है, जबकि मुरैना में आंधी के साथ झमाझम बारिश भी हुई है वहीं भोपाल में शाम को बादल छाए रहे। बारिश के बाद कुछ इलाकों में तापमान में तेज गिरावट भी दर्ज की गई तो ग्वालियर में भी दिन में तेज धूप रही है, लेकिन मौसम विभाग ने शहर में तेज आंधी के भी आसार जताए हैं। भिंड में आंधी के बीच छह मकानों में आग भी लग गई। 

वैज्ञानिक ने बताया कि प्रशांत महासागर में ला-नीना सक्रिय है। एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो चुका है, वहीं दूसरा आ रहा है। पश्चिम बंगाल की खाड़ी में एक निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है। इससे 2 मई से मप्र के अधिकांश हिस्सों में बादल रहेंगे। 3 से 5 मई के बीच कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। इसके बाद मई महीना गर्म रहेगा। होशंगाबाद में पानी गिरने से मंडी में रखा गेहूं भीग गया।

मई के दूसरे-तीसरे सप्ताह में अधिकतम तापमान सामान्य से 2 से 3 डिग्री तक ज्यादा जाएंगे। कई इलाकों में पारा 46 डिग्री के पार जा सकता है। कहीं-कहीं तो यह 47 तक जा सकता है। भोपाल की बात की जाए, तो अधिकतम तापमान 45-46 के बीच, उज्जैन में 44-45, इंदौर में 44, जबलपुर में 45-46 के आसपास रह सकता है। दतिया, ग्वालियर भिंड, टीकमगढ़, पन्ना, सतना, अशोक नगर, शिवपुरी, अनूपपुर और शहडोल कहीं-कहीं तापमान 47 डिग्री सेल्सियस को भी छू सकता है। रातें अपेक्षाकृत ठीक रहेंगी। ज्यादातर जगह रात का पारा 28 के नीचे रहेंगे। एक-दो जगह यह 30 से 32 डिग्री तक जा सकता है। रात को तापमान में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं है।

वर्तमान भूमध्यरेखीय प्रशांत क्षेत्र में ला-नीना सक्रिय है। इसके मई में भी इसी तरह बने रहने की संभावना है। अन्य जलवायु मॉडल भी आगामी सीजन के दौरान ला-नीना स्थितियों के लिए बढ़ी संभावना का संकेत दे रहे हैं।