दहेज के लिए हत्या: पति नवविवाहिता का गला घोंटा, ससुराल वालों ने आत्महत्या का रूप देना चाहा

हत्यारे पति, ससुर, देवर, दादी सास और बुआ सास गिरफ्तार, Killer husband, father-in-law, brother-in-law, grandmother-in-law and aunt-in-law arrested

दहेज के लिए हत्या: पति नवविवाहिता का गला घोंटा, ससुराल वालों ने आत्महत्या का रूप देना चाहा

रीवा। जिले के लौर थाना अंतर्गत जोधपुर गांव में दहेज लोभी एक पति ने गला दबाकर पत्नी की हत्या कर दी। वारदात के बाद पूरा परिवार एक होकर हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया तो मामला संदिग्ध लगा। नवविवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत पर उसके माता-पिता और चाचा ने ससुराल पक्ष पर दहेज के लिए हत्या करने का आरोप लगाया। पुलिस ने मामले की जांच और पीएम रिपोर्ट के आधार पर दहेज प्रताड़ना और हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी पति समेत अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

थाना प्रभारी केपी त्रिपाठी ने बताया कि 10 अप्रैल को रघुनाथगंज चौकी क्षेत्र के जोधपुर गांव निवासी ओंकारनाथ शर्मा पुत्र मथुरा प्रसाद शर्मा ने बहू के फांसी लगाने की सूचना दी। उन्होंने बताया कि उनकी बहू प्रतिमा शर्मा पति प्रशांत शर्मा (22) ने आत्महत्या कर ली है। मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेजा। मृतिका के नवविवाहिता होने के कारण तहसीलदार नईगढ़ी की मौजदूगी में पीएम कराया गया। वहीं मामले की जांच एसडीओपी मनगवां कृपाशंकर द्विवेदी द्वारा की गई। 

मामले की विवेचना के दौरान मृतिका के माता-पिता और चाचा ने बताया कि प्रतिमा की शादी डेढ़ साल पहले प्रशांत शर्मा से हुई थी। उसका पति गुजरात में प्राइवेट नौकरी करता है। शादी के बाद से ही प्रशांत व उसके परिजन प्रतिमा को मायके से दहेज में चार पहिया गाड़ी लाने के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। इसके साथ ही परिजनों ने मौत को संदिग्ध बताया था।

पीएम में हुआ हत्या का खुलासा
पीएम के दौरान डॉक्टरों ने पाया कि मृतका का गला घोंटा गया है। शव पर स्ट्रगुलेशन के चिन्ह पाए गए। पुलिस ने पीएम रिपोर्ट के आधार पर व मर्ग जांच  में सामने आए साक्ष्यों के आधार पर मृतिका प्रतिमा शर्मा के पति प्रशांत शर्मा (22), ससुर ओंकारनाथ शर्मा (40), देवर दीपक शर्मा (18) दीपू शर्मा (19), रामवती शर्मा पति मथुरा प्रसाद शर्मा (65), मनोज उर्फ ममता पति स्व. अजय तिवारी (30) सभी निवासी ढेरा थाना मऊगंज हाल निवासी जोधपुर के खिलाफ दहेज प्रताड़ना, दहेज हत्या और हत्या का मामला दर्ज किया है।

सभी आरोपियों को किया गिरफ्तार
पुलिस ने सभी आरोपियों के सबूत मिलने पर अलग-अलग टीम बनाकर गिरफ्तारी किया। कड़ाई से पूछताछ की तो पति प्रशांत शर्मा ने बताया कि मृतिका के मोबाइक में एक फोन आया था। जिसके बाद दोनों के बीच विवाद हुआ। इसी बात पर प्रतिमा का गला दबाकर हत्या कर दी। वहीं अन्य आरोपीगणों द्वारा हत्या के आरोपी को बचाने की नीयत से हत्या की वारदात को आत्महत्या का रूप देने का प्रयास कर झूठी कहानी बताई गई। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया है।