नाइजीरिया: चर्च में प्रार्थना कर रहे लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग, 50 से ज्यादा लोगों की मौत, कई घायल

दक्षिण-पश्चिम इलाके के ओवो शहर की सेंट फ्रांसिस चर्च में हुआ नरसंहार, Massacre at St. Francis Church in Owo City, South-West Region

नाइजीरिया: चर्च में प्रार्थना कर रहे लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग, 50 से ज्यादा लोगों की मौत, कई घायल

नाइजीरिया की कैथोलिक चर्च में रविवार को अचानक कुछ अज्ञात हमलावरों ने अंधाधुध फायरिंग कर दी। इस वारदात में महिलाओं और बच्चों सहित 50 लोगों से ज्यादा की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए। घायलों को नजदीक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। हमले के बाद के सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है। इसमें लोग खून से लथपथ नजर आ रहे है और मदद के लिए चीख-चिल्ला रहे हैं। नरसंहार की यह घटना दक्षिण पश्चिम इलाके के ओवो शहर की सेंट फ्रांसिस चर्च में हुई है। पुलिस को अभी तक पता नहीं चला है कि ये हमला किसने और क्यों किया है। पुलिस का कहना है कि जांच के बाद ही हमलावरों के बारे में कुछ कहा जा सकता है।

पहले बम फेंकने के बाद ताबड़तोड़ फायरिंग
स्थानीय लोगों के मुताबिक घटना के समय पेंटेकोस्ट संडे का त्योहार मनाने के लिए ईसाई समुदाय के लोग बड़ी संख्या में जमा हुए थे। चारो तरफ खुशी और जश्न का माहौल था। इस दौरान हमलावर चर्च में घुसकर पहले पहले बम फेंके। इसके बाद अफरातफरी मच गई फिर हमलावरों ने एक तरफ से घेरकर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी।

बढ़ सकता है मौतों का आंकड़ा
नाइजीरिया के लोअर विधायक चेंबर में ओवो क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले एडेलेगबे टिमिलीन ने कहा कि बंदूकधारियों ने पहले चर्च के पास विस्फोटकों में विस्फोट किया और फिर प्रार्थना करने वालों पर गोलीबारी की। इस हमले में 50 लोग मारे गए हैं, हालांकि अन्य लोगों ने यह आंकड़ा अधिक बताया है। माना जा रहा है कि हमले का शिकार हुए लोगों में मौत का आंकड़ा बढ़ सकता है।  इस हमले की अभी तक किसी भी गुट या संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है।

राष्ट्रपति ने कहा, नृशंस कृत्य
ओंडु राज्य के गवर्नर अरकुनरिन अकेरेडोलू ने हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि आज सेंट फ्रांसिस कैथोलिक चर्च में पूजा कर रहे ओवो के निर्दोष लोगों के हमले और हत्या से बहुत दुखी हैं। वहीं राष्ट्रपति मुहम्मदु बुहारी ने हमले की निंदा करते हुए इसे नृशंस कृत्य बताया है।