वीडियो कांफ्रेसिंग में बात करने पर बुरहानपुर कलेक्टर को शिवराज ने लगाई फटकार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों फुल फॉर्म में चल रहे हैं। एक दिन पहले उन्होंने पानी की समस्या से दो चार हो रहे लोगों को राहत दिलाने के लिए उन्हीं के बीच खड़े होकर भोपाल नगर निगम कमिश्नर को फोन लगा दिया था। अब एक कार्यक्रम में कलेक्टर को फटकार लगा दी।

वीडियो कांफ्रेसिंग में बात करने पर बुरहानपुर कलेक्टर को शिवराज ने लगाई फटकार

 भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों फुल फॉर्म में चल रहे हैं। एक दिन पहले उन्होंने पानी की समस्या से दो चार हो रहे लोगों को राहत दिलाने के लिए उन्हीं के बीच खड़े होकर भोपाल नगर निगम कमिश्नर को फोन लगा दिया था। अब एक कार्यक्रम में कलेक्टर को फटकार लगा दी। यहां तक कह दिया कि जब मैं बोल रहा हूं तो तुम्हें बोलने का अधिकार नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक कार्यक्रम के दौरान बुरहानपुर कलेक्टर पर भड़क गए। बैठक के बीच कलेक्टर प्रवीण सिंह की गतिविधि देख सीएम को गुस्सा आ गया।

उन्होंने डांटते हुए कहा कि कलेक्टर बुरहानपुर इधर-उधर मुंडी नहीं हिलाएं। सामने देखें सीधे। प्रवीण, जब मैं बोल रहा हूं, तो तुम्हें बोलने का अधिकार नहीं है। शिवराज ने कहा कि आपके शहर में अगर कोई बच्चा सड़क पर, रेलवे स्टेशन पर या बस स्टैंड पर भीख मांगते दिखे, तो सबके लिए शर्म की बात है। इसलिए इन बच्चों को समझाएं। कलेक्टर की जवाबदारी है। तत्काल उनके आश्रय की व्यवस्था करें। उनकी पढ़ाई-भोजन और कपड़ों के खर्च की व्यवस्था हम करेंगे।

सामुदायिक विद्वेष और समाज में अशांति फैलाने वालों को बख्शा नहीं जाएगा
वहीं सिवनी में दो आदिवासियों की हत्या के बाद वहां कानून व्यवस्था को लेकर की गई कार्रवाई को लेकर एसआईटी जांच के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सिवनी और नीमच के कलेक्टर, एसपी को तलब कर कहा कि जो लोग सामाजिक व्यवस्था से छेड़छाड़ करें और सामुदायिक विद्वेष और अशांति फैलाने का काम करते है उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई करें। सिवनी और नीमच के मामले को लेकर सीएम ने सुबह अपने निवास पर बैठक में कहा कि अलग-अलग समुदायों के बीच दूरियां न पैदा हों। हमें सद्भाव का वातावरण बनाना है। 


साथ ही उन्होंने समाज तोड़ने वालों की लिस्ट बनाने और लव जिहाद जैसे अपराध को रोकने की कार्रवाई करने को कहा। गोकसी के मामले में किसी को छोड़ना नहीं है। कुछ माफिया भोले भाले लोगों को आगे कर देते हैं। ऐसे लोगों की पहचान करें, उनको खत्म करना है। उन्होंने साथ ही कहा कि ग्रामीण इलाकों में कुछ और अपराध की जानकारी मिली है। लव जिहाद भी नहीं चलेगा।  सीएम ने बेहतर काम करने वाले अधिकारियों की लिस्ट बनाकर उनके नाम भेजने को भी कहा। सीएम ने कहा कि उन्हें हम पुरस्कृत करेंगे। हमारी एक्सरसाइज का मतलब बेहतर काम कैसे हो है। 

 पैसे लेने की शिकायत मिली है
सीएम ने कहा कि मुझे आवास प्लस में नाम जुड़वाने के नाम पर पैसे लेने की शिकायत मिली है, यदि कोई ऐसा कर रहा है तो उसके खिलाफ कार्रवाई करो।  पैसे लेने की कोशिश की खबरें हैं, इसे रोके।