दाहोद में हो रहे अवैध उत्खनन पर तहसील प्रशासन ने की कार्यवाही

दाहोद में हो रहे अवैध उत्खनन पर तहसील प्रशासन ने की कार्यवाही

मंडीदीप औबेदुल्लागंज ब्लॉक के ग्राम दाहोद में तालाब गहरीकरण के नाम पर अवैध उत्खन्न धड़ल्ले से जारी थी जिसको लेकर गामीणो में काफी रोष था  ग्रामीणों ने मिट्टी से भरा एक डम्फर भी रोका था । मौके पर डम्फर चालक भागने में सफल हुआ । इस घटना की सुचना जैसे ही तहसील प्रशासन को लगी उन्होंने तत्काल कार्रवाई के लिए नायब तहसीलदार लखन को तत्काल मौके भेज उचित कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया ज्ञात हो ग्राम पंचायत दाहोद द्वारा 12 अप्रैल को अनुविभागीय कार्यालय गौहरगंज से परमिश्न मांगी गई थी जिसमें उन्होंने ने कहां था तालाब का गहरीकरण विष्णुदत्त मिश्रा द्वारा  स्वंय के खर्च से किया जावेगा जिस से ग्रामवासियों को तथा विष्णुदत्त मिश्रा को शासन की तरफ से अनुदान नही चाहिए और इस उत्खन्न से ग्रामीणों तथा ग्राम पंचायत को कोई अपत्ति नही होगी। आवेदन देने के साथ ही दाहोद में तालाब गहरीकरण का काम तेजी से शुरू कर दिया गया था, जबकि इस विषय में गौहरगंज एसडीएम आदित्य शर्मा का कहना है कि ग्राम पंचायत दाहोद के द्वारा तालाब गहरीकरण के लिए अनुमति हेतु प्रस्ताव अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय को भेजा गया था। ऐसे ही पूर्व में भेजे गए प्रस्ताव पर जिला खनिज अधिकारी के द्वारा मार्गदर्शन दिया गया था। मेरे द्वारा संदर्भित पत्र में उस मार्गदर्शन वाले पत्र का हवाला देते हुए, उक्त मार्गदर्शन के अनुरूप कार्यवाही करने के लिए प्रशासनिक समिति के प्रधान और सचिव को लेख किया गया है, ना की कोई अनुमति दी गई है। इस कथन से स्पष्ट है तालाब गहरीकरण पर कार्रवाई हेतु प्रशासन ने निर्देश दिये थे लेकिन प्रशासन द्वारा जो कार्रवाई की गई है उसके अनुसार एक डंपर को जप्त किया गया है। जेसीबी मशीन कब्जे में नही ली गई।