कोलंबिया में भूस्खलन की वजह से बस खाई में गिरी, 34 लोगों की मौत, कई घायल

कोलंबिया में भूस्खलन की वजह से 34 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, 9 लोगों को जिंदा बचा लिया गया है। कोलंबिया के राष्ट्रपति गुस्तावो पेत्रो ने कहा कि भारी बारिश की वजह से भूस्खलन की घटना हुई और प्यूबेलो रिको और सैंटा सिसिलिया गांवों के बीच एक बस चपेट में आ गई।

कोलंबिया में भूस्खलन की वजह से बस खाई में गिरी, 34 लोगों की मौत, कई घायल

बोगोटा। कोलंबिया में भूस्खलन की वजह से 34 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, 9 लोगों को जिंदा बचा लिया गया है। कोलंबिया के राष्ट्रपति गुस्तावो पेत्रो ने कहा कि भारी बारिश की वजह से भूस्खलन की घटना हुई और प्यूबेलो रिको और सैंटा सिसिलिया गांवों के बीच एक बस चपेट में आ गई।

यह घटना राजधानी बोगोटा से 230 किलोमीटर दूर हुई है। समाचार एजेंसी रॅायटर्स के मुताबिक, आंतरिक मंत्री अल्फोंसो प्रादा ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा, 'हमने तीन नाबालिगों सहित 34 लोगों को मृत पाया है। वहीं, हम नौ लोगों को बचाने में कामयाब रहे, जिनमें से चार लोगों की हालत गंभीर है।'

Read More: इसरो अगले साल चांद पर फिर भेजेगा उपग्रह चंद्रयान-3 

बचाव कार्य जारी
रविवार को हुए भूस्खलन में कई लोग फंस गए थे और बचाव कार्य जारी था। ऑपरेशन के घंटों के भीतर तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया गया और कई घायल हो गए, लेकिन रॉयटर्स ने बताया कि सरकार द्वारा क्षेत्र में कई टीमों को तैनात किया गया था। एंड्रेस इबर्गुएन नामक एक जीवित व्यक्ति के अनुसार, बस ने भूस्खलन के कारण हुए रूबल को चकमा देने की कोशिश की लेकिन अभी भी फंसी हुई थी।

भूस्खलन के कारण अन्य वाहन भी फंस गए

एंड्रेस इबर्गुएन ने रेडियो स्टेशन ल्लोरो स्टीरियो को बताया, इसका एक हिस्सा नीचे आ रहा था और बस उससे थोड़ा पीछे थी। बस चालक पीछे जा रहा था जब यह दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

Read More: दुनिया के सबसे अमीर शख्स को सताने लगा जान का खतरा, कहा- कोई भी गोली मार सकता है मुझे 

बस में 25 यात्री सवार थे और भूस्खलन के कारण अन्य वाहन भी फंस गए। कम से कम 27 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए क्योंकि उत्तर पश्चिम कोलंबिया में एक सड़क भूस्खलन से गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गई थी।

राष्ट्रपति गुस्तावो पेट्रो ने पीड़ितों के प्रति व्यक्त की अपनी संवेदना 

राष्ट्रपति गुस्तावो पेट्रो ने पीड़ितों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करने के लिए सोमवार को ट्विटर का सहारा लिया और कहा कि एक बस और अन्य वाहन मलबे में फंस गए हैं। पेट्रो ने कहा, "दुख के साथ मुझे यह घोषणा करनी पड़ रही है कि इस त्रासदी में अब तक तीन नाबालिगों सहित 27 लोगों की मौत हो चुकी है।

Read More: इंडोनेशिया का सबसे ऊंचा ज्वालामुखी माउंट फटा, राख के नीचे दब गए कई गांव

बता दें, कोलंबिया वर्तमान में लगभग 40 वर्षों में सबसे खराब मानसून का सामना कर रहा है और बुनियादी ढांचे को नियंत्रित करने के लिए वर्षा कठिन साबित हुई है। सरकारी आंकड़ों से पता चला है कि बारिश से कई सड़कें प्रभावित हुई हैं और कम से कम 270 लोगों की जान चली गई है।