मुख्यमंत्री शिवराज ने राजगढ़ जिले को दी सरकारी चिकित्सा कॉलेज की सौगात

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जनता की सेवा और प्रदेश का विकास उनकी सरकार का एक मात्र लक्ष्य है।

मुख्यमंत्री शिवराज ने राजगढ़ जिले को दी सरकारी चिकित्सा कॉलेज की सौगात

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जनता की सेवा और प्रदेश का विकास उनकी सरकार का एक मात्र लक्ष्य है। मुख्यमंत्री बुधवार को राजगढ़ जिला मुख्यालय पर 256 करोड़ रुपए लागत वाले शासकीय मेडिकल कॉलेज का भूमि-पूजन कर जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने समारोह के दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना के 10 हजार से अधिक हितग्राहियों को गृह प्रवेश भी कराया। उन्होंने ने कहा है कि उनकी सरकार जनता की है और जनता की सेवा भगवान की पूजा जैसी है, मैं अपनी जनता का पुजारी हूं। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान इसलिए चलाया गया है कि सभी पात्र नागरिकों को रोटी, कपड़ा, मकान, दवाई, पढ़ाई और रोजगार जैसी योजनाओं का लाभ दिलाया जा सकें। उन्होंने कहा कि उनके राज में राजगढ़ सहित प्रदेश में कोई भूखा और कोई भी परिवार बिना मकान के भी नहीं रहेगा।   चाहे सरकार को जमीन खरीदना पड़े, पर   बिना मकान के नहीं रहने देंगे।

सभी पात्र परिवारों के 31 अक्टूबर तक बनाये जायें आयुष्मान कार्ड

मुख्यमंत्री चौहान ने आयुष्मान योजना की मंच से ही पड़ताल करते हुए कलेक्टर को निर्देश दिए कि 31 अक्टूबर तक सभी पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बन जाएँ। कलेक्टर ने बताया कि अब तक 6 लाख 90 हजार आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके है। मुख्यमंत्री ने राजगढ़ वासियों से कहा कि मेडिकल कॉलेज बन जाने से अब जिले में ही उत्कृष्ट उपचार मुहैया होगा और 150 बच्चों को मेडिकल की शिक्षा भी मिलेगी। उन्होंने कहा कि कॉलेज चाहे प्राइवेट हो या सरकारी, बच्चे चाहे आरक्षित हो या अनारक्षित यदि मेधावी हैं तो उनकी 8-10 लाख तक की फीस राज्य सरकार भरेगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राजगढ़ में बनाए गए बड़े बांधों सहित तमाम तरह के विकास कार्यों का उल्लेख करते हुए कहा कि राजगढ़ आगामी 5 वर्षों में कृषि के क्षेत्र में पंजाब और हरियाणा जैसे राज्यों से भी आगे होगा। उन्होंने किसानों से भूमि को रसायन से बचाने के लिए प्राकृतिक खेती अपनाने की अपील भी की। मुख्यमंत्री ने सिंचाई से छूट गए गाँव के किसानों को आश्वस्त किया कि पानी को रोक कर उन क्षेत्रों में भी सिंचाई का इंतजाम किया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आमजन को आश्वस्त किया कि उनकी सरकार गुंडे बदमाशों और माफिया को ध्वस्त करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बहन-बेटियों को सभी तरह की सुरक्षा दी जाएगी। उन्होंने आजीविका मिशन की बहनों से कहा कि वे मन लगा कर काम करें। सरकार की मंशा है कि बहनों की महीने में 10 हजार रूपये आय हो।

मुख्यमंत्री ने नागरिकों को विकास के लिए संकल्प भी दिलाया और कहा कि निर्वाचित जन-प्रतिनिधियों के साथ नगारिक भी अपने कर्त्तव्यों का पालन करें। उन्होंने जन-सहभागिता से ग्रामीण स्वच्छता में अच्छा काम होने पर जिलेवासियों की सराहना की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी 11 अक्टूबर को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी उज्जैन में महाकाल लोक का लोकार्पण करेंगे। उन्होंने सभी नागरिकों से उज्जैन कार्यक्रम में पहुँचने और अपने घर, मंदिरों में इस दिन पूजन, हवन, भजन-कीर्तन कर सहभागी बनने का आहवान किया।

प्रारंभ में मुख्यमंत्री चौहान ने मेडिकल कॉलेज का विधिवत पूजन कर शिलान्यास किया साथ ही कॉलेज भवन के मॉडल का अवलोकन किया। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज के संबंध में जानकारी दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दिव्यांगों के बीच कुछ समय बिताया और 22 दिव्यांग को ट्रायसिकल वितरित की। उन्होंने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन एवं स्व-सहायता समूहों को 5 करोड़ रूपये राशि के चेक प्रदान किए।

समारोह को चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, सांसद श्री रोडमल नागर और विधायक बापूसिंह तंवर ने भी संबोधित किया। जिले के प्रभारी एवं उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादन ने अभार व्यक्त किया। समारोह में जन-प्रतिनिधि, अधिकारी और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित रहे।

श्योपुर के फूड ऑफिसर सस्पेंड,5 दिन में 3 अधिकारी नपे:शिवराज बोले-जो काम के बदले दाम मांगे, उन्हें नौकरी से बाहर करो
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों एक्शन में हैं। CM ने 5 दिन में तीन खाद्य अधिकारियों पर एक्शन लिया है। बुधवार सुबह 7 बजे श्योपुर जिले की समीक्षा बैठक में उन्होंने कड़े तेवर दिखाए। उन्होंने श्योपुर जिले के खाद्य अधिकारी (DSO) को सस्पेंड कर दिया। राशन वितरण से जुड़ी गलत जानकारी देने पर CM ने उनके खिलाफ ये एक्शन लिया। वर्चुअल मीटिंग में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से राज्य और केंद्र सरकार की योजनाओं पर टू-द-पॉइंट बात की। जिले की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, जो काम के बदले दाम मांगे, उन्हें नौकरी से बाहर करो। CM ने कहा कि राशन वितरण में गड़बड़ी करने वालों को हम छोड़ेंगे नहीं।