दिवाली पर छुट्टी और पैसे नहीं मिले तो कर्मचारियों ने रेस्टोरेंट मालिक को लोहे की रॉड से पीट-पीटकर मार डाला

रायपुर। अगर लोगों पर सनक सवार हो जाये तो वो किसी भी हद को पार कर सकता है, ऐसा ही एक मामला छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में सामने आया है, जहां मंगलवार रात कर्मचारियों ने ही मैगी प्वाइंट के रेस्टोरेंट संचालक की हत्या कर दी गई। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस जांच में जुट गई। छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला की कारोबारी की हत्या में उसके ही दो कर्मचारी शामिल हैं।

दिवाली पर छुट्टी और पैसे नहीं मिले तो कर्मचारियों ने रेस्टोरेंट मालिक को लोहे की रॉड से पीट-पीटकर मार डाला

रायपुर। अगर लोगों पर सनक सवार हो जाये तो वो किसी भी हद को पार कर सकता है, ऐसा ही एक मामला छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में सामने आया है, जहां मंगलवार रात कर्मचारियों ने ही मैगी प्वाइंट के रेस्टोरेंट संचालक की हत्या कर दी गई। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस जांच में जुट गई। छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला की कारोबारी की हत्या में उसके ही दो कर्मचारी शामिल हैं।

इसके बाद घेराबंदी करके पुलिस ने दोनों आरोपियों को आधे घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उन्होंने बताया कि कारोबारी ने उन्हें दिवाली पर ना तो छुट्टी दी और ना ही पैसा इसलिए गुस्से में उसे डंडे से पीट-पीटकर मार डाला।

Read More: कुश्ती के राष्ट्रीय खिलाड़ी की ईंट से सिर कुचलकर हत्या

यह घटना रायपुर के माना थाना क्षेत्र की है। पुलिस ने बताया कि 45 साल के अजय गोस्वामी महाराज मैगी प्वाइंट नाम से एक रेस्टोरेंट चलाते थे। उनके रेस्टोरेंट में मध्य प्रदेश का रहने वाला सागर सिंह सैयाम और ओडिशा का रहने वाला चिन्मय साहू काम कर रहा था। पिछले कुछ दिनों से गोस्वामी का इन दोनों कर्मचारियों से पैसों को लेकर विवाद चल रहा था।

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

कर्मचारियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि अजय गोस्वामी उन्हें कई महीनों से वेतन नहीं दे रहा था। वेतन की बात को लेकर उनका अक्सर उससे झगड़ा हुआ करता था। दिवाली पर भी उसने ना तो वेतन दिया और ना ही छुट्टी दी। दिवाली के अगले दिन जब अजय ने उनसे काम करने को कहा तो दोनों ने बोल दिया कि आज छुट्टी है, काम नहीं करेंगे। यह सुनकर अजय ने उन्हें डंडे से पीटना शुरू कर दिया। इसके बाद दोनों ने लोहे की रॉड से पीट-पीटकर कारोबारी को मार डाला।

Read More: Russia-Ukraine War: रूस ने और तेज किए यूक्रेन पर हमले, अब तक 400 ईरानी ड्रोन दागे 


बस स्टैंड से गिरफ्तार हुए आरोपी

हत्या के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए थे। पुलिस ने वारदात की सूचना मिलने के बाद घेराबंदी शुरू की। रेलवे स्टेशन, भाटा गांव बस स्टैंड पर पुलिस तैनात कर दी गई। दोनों अपने गांव भागना चाह रहे थे। लेकिन इन्हें भाटा गांव बस स्टैंड के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस अब इन्हें धारा 302 के तहत मामला दर्ज करके जेल भेजने की तैयारी में है। आरोपियों के पास से रेस्टोरेंट से लूटे गए 10 हजार रुपए भी बरामद हुए हैं।