बीसीसीआई का ऐलान : अब पुरुष क्रिकेटरों के बराबर होगी भारतीय महिला खिलाड़ियों की मैच फीस 

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने गुरुवार को बड़ा ऐलान किया। उन्होंने बताया कि अब भारतीय महिला खिलाड़ियों की मैच फीस भी पुरुष खिलाड़ियों के बराबर होगी। इससे पहले न्यूजीलैंड में यह नियम लागू हो चुका है।

बीसीसीआई का ऐलान : अब पुरुष क्रिकेटरों के बराबर होगी भारतीय महिला खिलाड़ियों की मैच फीस 

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने गुरुवार को बड़ा ऐलान किया। उन्होंने बताया कि अब भारतीय महिला खिलाड़ियों की मैच फीस भी पुरुष खिलाड़ियों के बराबर होगी। इससे पहले न्यूजीलैंड में यह नियम लागू हो चुका है। बीसीसीआई की एजीएम में हाल ही में यह फैसला लिया गया था कि महिला आईपीएल का पहला सीजन 2023 में खेला जाएगा। इसके बाद बोर्ड ने यह बड़ा फैसला लिया है। उसके इस कदम से महिला क्रिकेट में बड़ा बदलाव आएगा।

Read More: 'नहाय खाय' के साथ 28 अक्टूबर से शुरू होगा महापर्व छठ, जानें कब दिया जाएगा सूर्य को अर्घ्य




जय शाह ने अपने ट्वीट में कहा, ''बीसीसीआई महिला क्रिकेटरों को उनके पुरुष समकक्षों के समान मैच फीस का भुगतान किया जाएगा। टेस्ट (15 लाख रुपये), वनडे (6 लाख रुपये), टी20 (3 लाख रुपये)। समान वेतन हमारी महिला क्रिकेटरों के लिए मेरी प्रतिबद्धता थी और मैं एपेक्स काउंसिल को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं। जय हिंद।''

Read More: वैदिक मंत्रोच्चार के साथ शीतकाल के लिए बंद हुए बाबा केदारनाथ धाम के कपाट



पुरुषों को कितनी मैच फीस मिलती है?
एक टेस्ट मैच: 15 लाख रुपये
एक वनडे मैच: 6 लाख रुपये
एक टी20 मैच: 3 लाख रुपये

अब तक औसतन इतने रुपये मिलते थे महिलाओं को
यदि औसतन तुलना की जाए तो अब तक सीनियर महिला क्रिकेटर्स को प्रतिदिन मैच के लिए 20 हजार रुपये फीस मिलती थी। यह किसी अंडर-19 पुरुष क्रिकेटर के लगभग बराबर थी, जबकि सीनियर पुरुष खिलाड़ी प्रतिदिन मैच फीस के तौर पर औसतन 60 हजार रुपए कमाई करते हैं। ऐसे में यह महिला और पुरुषों के बीच एक बड़ा अंतर था, मगर अब यह भेदभाव भी दूर हो जाएगा। 2022 से पहले महिला क्रिकेटरों को मैच फीस के तहत सिर्फ 12,500 रुपये दिए जाते थे।

Read More: Chandra Grahan 2022: साल का आखिरी चंद्रग्रहण 8 नवंबर को, जानें भारत में कहां-कहां दिखेगा 

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने ये पहल शुरू की

क्रिकेट में महिला-पुरुषों को समान वेतन देने की पहल इसी साल जुलाई में सबसे पहले न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड (NZC) ने शुरू की थी। उन्होंने महिला और पुरुष क्रिकेटर्स को समान वेतन देने का फैसला किया था। इसको लेकर NZC और 6 बड़ी एसोसि एशन के बीच एग्रीमेंट भी हुआ। यह डील पहले पांच साल के लिए की गई। इसके तहत इंटरनेशनल समेत घरेलू क्रिकेटर्स को भी सभी टूर्नामेंट में होने वाले मैचों की फीस भी समान ही मिलेगी।