नार्थ कोरिया ने फिर बैलिस्टिक मिसाइल का टेस्ट किया

यूएस वाइस प्रेसिडेंट की साउथ कोरिया विजिट से पहले किया टेस्ट

नार्थ कोरिया ने फिर बैलिस्टिक मिसाइल का टेस्ट किया

प्योंगयांग। नॉर्थ कोरिया ने एक बार फिर बैलिस्टिक मिसाइल का टेस्ट किया है। साउथ कोरिया आर्मी ने इसकी जानकारी दी है। उसने एक बयान में कहा- नार्थ कोरिया ने ईस्ट कोस्ट की ओर समुद्र में मिसाइल दागी है। नार्थ कोरिया ने प्योंगयांग से 100 किलोमीटर दूर यह मिसाइल टेस्ट किया। ये टेस्टिंग अमेरिका और साउथ कोरिया की ज्वॉइंट मिलिट्री एक्सरसाइज के बीच की गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस परीक्षण की वजह साउथ कोरिया और अमेरिका के नजदीकी रिश्ते हैं। दरअसल, अमेरिका की वाइस-प्रेसिडेंट कमला हैरिस जल्द साउथ कोरिया की विजिट पर जा रही हैं। उनके साउथ कोरिया पहुंचने की तारीख तय नहीं है, लेकिन रिपोर्ट्स के मुताबिक वो 27 सितंबर को जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे का स्टेट फ्यूनरल अटेंड करने के बाद साउथ कोरिया जाएंगी।

प्रतिबंध के बावजूद मिसाइल टेस्टिंग कर रहा नॉर्थ कोरिया
संयुक्त राष्ट्र  ने नॉर्थ कोरिया पर परमाणु और बैलिस्टिक हत्यारों की टेस्टिंग को लेकर प्रतिबंध लगाए हैं। आसान शब्दों में कहें तो नॉर्थ कोरिया परमाणु और बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण नहीं कर सकता है। इसके बावजूद लगातार मिसाइल टेस्ट किए जा रहे हैं। इससे पहले मई में भी मिसाइल टेस्ट किया गया था।

नॉर्थ और साउथ कोरिया के बीच बढ़ रहा तनाव
दक्षिण कोरिया के प्रेसिडेंट आॅफिस के मुताबिक, नेशनल सिक्योरिटी डायरेक्टर किम सुंग-हान ने मिसाइल टेस्टिंग की सूचना मिलते ही एक इमरजेंसी राष्ट्रीय सुरक्षा बैठक बुलाई। इस दौरान उन्होंने कहा- नॉर्थ कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद  के कानून का उल्लंघन किया है। इससे दोनों देश के बीच तनाव बढ़ रहा है।

नॉर्थ कोरिया तेजी से बढ़ा रहा मिलिट्री बिल्डअप
नॉर्थ कोरिया अपने मिलिट्री बिल्डअप को तेजी से बढ़ा रहा है। बीते दिनों नॉर्थ कोरिया ने कई सारे मिसाइल टेस्ट किए हैं। इनमें एक नई प्रकार की लंबी दूरी की क्रूज मिसाइल और एक हाइपरसोनिक मिसाइल लॉन्च शामिल है।  नार्थ कोरिया ने 2017 से लेकर अब तक 30 से ज्यादा बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है।